पश्चिम बंगाल में चुनावी गहमागर्मी अपने चरम पर है। टीएमसी और बीजेपी के बीच के आरोप प्रत्यारोप का खेल थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी एक रैली में टीएमसी पर जमकर तंज कसे। वह पश्चिम बंगाल के हुगली में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे ।


अपने तीन दिवसीय चुनावी कार्यक्रम के दूसरे दिन योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बंगाल में बीजेपी के आते ही टीएमसी की गुंडागर्दी छू मंतर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि 2 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद जब भाजपा की सरकार बनेगी तब टीएमसी के गुंडों का वही हाल होगा जो यूपी में गुंडों और माफियाओं का हुआ है।

योगी ने कहा कि दीदी भाजपा का विरोध करते करते राम नाम के विरोध में हो गई है। उनकी रुचि न तो महिलाओं में है, न ही किसानों और युवाओं में। उनकी सहानुभूति केवल गुंडागर्दी करने वालों के साथ है। हुगली में आरामबाग खेती क्षेत्र है।


किसानों द्वारा आत्महत्या का उदाहरण देते हुए उन्होंने हुगली के आरामबाग खेती क्षेत्र का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि पिछले दस वर्षों में जाने कितने किसानों ने यहाँ आत्महत्या की है, लेकिन दीदी यहां के किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना का लाभ नहीं देना चाहती।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी रुचि बंगाल के विकास में बिल्कुल नहीं है। योगी ने यह भी तंज कसा की राम मंदिर अयोध्या में बन रहा है और बेचैनी यहां बंगाल में बैठी दीदी को हो रही है।

नंदीग्राम में दूसरे चरण के मतदान के दौरान ममता का पोलिंग बूथ पर दो घंटे तक रुकने को योगी ने ममता के मन में हार का डर बताया। उन्होंने कहा कि एक मुख्यमंत्री का या मुख्यमंत्री पद की दावेदार का इस तरह से 2 घंटो तक पोलिंग बूथ पर बैठे रहना उनके द्वारा अपनी हार मान लेने को दिखाता है। पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण के मतदान प्रचार के लिए 4 अप्रैल को आखिरी दिन था। तीसरे चरण के चुनाव के लिए मतदान 6 अप्रैल को होंगे।