उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में चार चरणों में पंचायत चुनाव होंगे। मतदान का पहला चरण 15 अप्रैल को होगा। दूसरा चरण 19 अप्रैल को, तीसरा चरण 26 अप्रैल को और चौथा चरण 29 अप्रैल को होगा।

पहले चरण के चुनाव सभी 18 मंडलों में से एक जिले में होंगे। मतों की गिनती 2 मई को होगी। चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही यूपी में आचार संहिता लागू हो गई है। सुप्रीम कोर्ट आज आरक्षण मामले की सुनवाई करेगा। चुनाव में गड़बड़ी करने वालों से एनएसए वसूला जाएगा

एनएसए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेगा। चुनाव के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम भी होंगे। जोनल मजिस्ट्रेटों को भी विशेष जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं।

शिक्षा मित्रों का चुनाव में ड्यूटी से इनकार 

 यूपी डिस्टेंस बीटीसी टीचर्स एसोसिएशन ने कहा है कि सरकार की उपेक्षा के कारण शिक्षामित्र त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ड्यूटी नहीं करेंगे। संघ ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों के लिए मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम में शिक्षामित्र ड्यूटी नहीं करेंगे।

  उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों ने शिक्षकों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया है। कम वेतन में शिक्षकों से शिक्षण कार्य के साथ-साथ शिक्षा कार्य कराया जा रहा है। संघ ने निर्णय लिया है कि यदि शिक्षा मित्र की मांगों को जल्द नहीं माना जाता है, तो वे शिक्षण कार्य के अलावा कुछ नहीं करेंगे।

 यूपी पंचायत चुनाव, आगरा में 371 आपत्तियां रद्द आगरा जिले में पंचायत चुनाव के लिए नए आरक्षण में कोई बदलाव नहीं होगा।