दुनिया भर में कोरोना बीमारी अपना कहर बरपा रही है तो वहीं दूसरी ओर नाइजीरिया में संदिग्ध हैजे के प्रकोप ने तबाही का मंजर कायम कर दिया है। समाचार एजेंसी सिल्वर के हवाले से आईएएनस ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि नाइजीरिया में इस साल संदिग्ध हैजा के प्रकोप से तकरीबन 50 लोगों की मौत हो गई है। नाइजीरिया सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (NCDC) के मुताबिक देश में कुल 8 राज्यों में संदिग्ध हैजा होने की सूचना मिली है। 


अबुजा में एनसीडीसी के प्रमुख चिकवे इचेजवाजू ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए बताया कि 28 मार्च तक 50 मौतों के साथ कुल 1746 मामले सामने आए हैं। एनसीडीसी की टीम ने इस स्थिति पर बारीकी से नजर बना रखी है। नाइजीरिया के नसरवा, सोकोतो, कोगी, बेलेसा, गोम्बे, जम्फारा, डेल्टा और बेन्यू के राज्यों से इस संदिग्ध बीमारी की सूचना मिली है।इस बीमारी का प्रकोप देश में लगातार बना हुआ है। 


रिपोर्ट के अनुसार यह बीमारी बरसात के मौसम में होती है। यह बीमारी ज्यादा गंदगी भीड़भाड़ और पानी की कमी वाले इलाकों में ज्यादा पनपती है। यह बीमारी खुले में शौच करने वाली जगह पर ज्यादा फैलती है। इससे पहले 2018 में  एनसीडीसी ने देश भर में 16000 से अधिक हैजे कि मामले की पुष्टि की थी।