कोरोना के खिलाफ देश ने जीती जंग , 95.12 प्रतिशत हुई रिकवरी रेट

भारत में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या 1 करोड़ के करीब पहुंच गई  है | मंगलवार की सुबह तक कोरोना के 22,065 न ए मामले की पुष्टि हुई | इसी दौरान 354 लोगों ने इस महामारी से जान गंवाई | देश में रिकवरी रेट  बढ़कर 95.12 प्रतिशत है, जो कि विश्व में सबसे अधिक है| वहीं मृत्यु दर 1.45 प्रतिशत  है |
इसी पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा-  भारत में कोरोना से जंग जारी है, फिलहाल रिकवरी रेट में इजाफा हुआ है| भारत में कोरोना के सक्रिय केसों की संख्या अब कम है |

देश में फिलहाल 3,39,820 कोरोना के  एक्टिव केस है| स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आकड़ों के मुताबिक अब तक कोरोना से  94 लाख 22 हजार 636  संक्रमित लोग रिकवर हो चुके हैं| वहीं, कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 1 लाख 43 हजार 709 हैं |

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस ने पिछले एक साल में पूरे देश में तबाही मचा दी | अमेरिका जैसा शक्तिशाली देश भी कोरोना के आगे कुछ नहीं कर पाया| अमेरिका में पिछले एक साल में एक लाख से ज्यादा लोग कोरोना से अपनी जान गंवा चुके हैं|

कोरोना वैक्सीन पर एक बहुत बड़ी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि इस महीने के अंत तक और न ए साल के शुरू आत में कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिल सकती है| अदार पूनावाला की कंपनी ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर वैक्सीन पर काम कर रही है | ये दोनों कंपनियां  मिलकर एक  कोविशील्ड  बना रहे हैं| इसके अलावा  भारत बायोटेक और फाइजर इंडिया भी देश में वैक्सीन बनाने की रेस में शामिल हैं|