हरियाणा के जींद में हुई किसान रैली में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बयान पर दिल्ली विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने उनपर तंज कसे।  बिधूड़ी ने कहा ,  "अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में रह रहे किसानो के बारे मे कभी नही सोचा और दूसरे राज्य में जाकर किसानों का साथ दे रहे हैं। "

बिधूड़ी ने केजरीवाल के बयान को राजनीतिक दांव बताते हुए कहा कि  वह अपने राज्य के किसानों को छोड़कर दूसरे राज्यों का हितैषी और झूठा हमदर्द बनने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने कभी भी किसानों के साथ न्याय नहीं किया और खुद को हितैषी बताते हैं। 

नेता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाया कि 4 साल पहले पंजाब विधानसभा में आकर मुख्यमंत्री ने  बहुत झूठ बोले थे। उन्होंने किसानों के लिए  200cr ख़र्च करने के वादे की याद दिलाई और कहा कि यह वादा आज तक वो पूरा नहीं किया गया।

उन्होंने किसानो की गेहूं की फसल की कीमत से लेकर ट्रैक्टर के कमर्शियल वाहन तक की बात की। दरअसल ट्रैक्टर को एक कमर्शियल वाहन माना जाता है और उसे रोड टैक्स के लिए 28 हज़ार रुपए भरने पड़ते हैं जिसके चलते किसान दूसरे राज्यो से रेजिस्ट्रेशन करवाते हैं। 

केजरीवाल ने जींद के मंच पर ये भी कहा था कि केंद्र सरकार ने सारी शक्तियों को LG के हाथों में सौप दिया जबकि, इसपर उन्होने कहा कि शक्तियों के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए GNCTD बिल लाया गया है। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने जींद में रविवार को किसान रैली में अपनी व अपनी पार्टी की राय सीधेतौर पर रखी। इसमें उन्होंने यह साफ किया कि वह कृषि बिल के विरोध में और किसानों के साथ, किसान आंदोलन में उनका साथ देंगे। जींद के मंच पर उन्होंने ये तक कहा कि जो लोग किसान आंदोलन का समर्थन नही कर रहे वो गद्दार है। इस बयान से अरविंद केजरीवाल विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं।