सनराइजर्स हैदराबाद vs पंजाब किंग्स -

अभी तक आईपीएल 2021 में हैदराबाद एक मात्रा ऐसी टीम है जिसने अपना जीत का खाता नहीं खोला है। हैदराबाद ने अब तक कुल 3 मुकाबले खेले हैं तीनों मुकाबले में जीत उनकी मुट्ठी से रेत की तरह फिसल गई। हैदराबाद की कमजोरी उनकी मध्यक्रम बल्लेबाजी है। मध्यक्रम में अनुभव की कमी उनकी मैच के परिणाम पर असर डाल रहा है। 


अगर हैदराबाद की टीम में बदलाव की बात करें तो मध्यक्रम में केन विलियमसन का खेलना उनकी टीम के लिए बेहद जरूरी है। उनके खेलने से मध्यक्रम के साथ-साथ टीम को भी मजबूती मिलेगी। अगर गेंदबाजी की बात करें तो उसमें कोई बदलाव देखने को नहीं मिल सकता है।


अगर पंजाब की बात करें तो पंजाब के लिए उनकी ताकत ही उनकी कमजोरी बन गई है। कप्तान केएल राहुल रन तो बना रहे हैं लेकिन उस तेजी से नहीं बना रहे जिससे टीम जीत सके। क्रिस गेल, निकोलस पूरन आउट ऑफ फॉर्म हैं। पंजाब के लिए भी सोचने के लिए बहुत कुछ है। कप्तान केएल राहुल के बल्लेबाजी और कप्तानी दोनों पर सवाल उठ रहे हैं। पंजाब की टीम में कोई ऐसी बदलाव की उम्मीद नजर नहीं आ रही है। सभी खिलाड़ियों को एकजुट होकर खेलने की जरूरत है। 


चेन्नई सुपरकिंग्स vs कोलकाता नाइट राइडर्स - 

चेन्नई सुपरकिंग्स ने इस आईपीएल की शुरुआत हार के साथ की थी, लेकिन आखिरी दो मुकाबलों में जीतकर चेन्नई ने एक बार फिर आईपीएल में रोमांच ला दिया है। 


वहीं अगर कोलकाता की बात करें तो कोलकाता ने इस आईपीएल की शुरुआत जीत के साथ की थी, लेकिन आखिरी दोनों मुक़ाबले हारकर कोलकाता की टीम संकट में है। मोर्गन की कप्तानी और आंद्रे रसेल और दिनेश कार्तिक का खामोश बल्ला कोलकाता के लिए बड़ी परेशानी है। 


बदलाव की बात करें तो चेन्नई एक बार फिर पिछले मैच की प्लेइंग 11 के साथ खेल सकती है। वहीं कोलकाता में कुछ बदलाव देखने को मिल सकते हैं। हरभजन सिंह के जगह पर कोलकाता एक बल्लेबाज को टीम में शामिल कर सकती है।