आईपीएल की दो सबसे विस्फोटक टीमों के बीच खेले गए मैच में पंजाब किंग्स ने बैंगलोर की टीम को चैलेंज करते हुए एक शानदार जीत दर्ज की। पहले बल्लेबाजी करते हुए केएल राहुल ने बैंगलोर के गेंदबाजों के धागे खोले तो फिर गेंदबाजी में रवि बिश्नोई और हरप्रीत बरार ने बैंगलोर के सबसे प्रमुख खिलाड़ियों को आउट करके उनकी बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी। 


केएल राहुल की शानदार पारी, लेकिन शतक से चूके 

बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले पंजाब को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। पंजाब की तरफ से इस मैच में केएल राहुल और प्रभ सिमरन सिंह सलामी बल्लेबाज के रूप में आए। हालांकि सिंह कुछ कमाल नहीं कर पाए और जल्दी ही अपना विकेट गंवा बैठे। इसके बाद आए यूनिवर्स बॉस क्रिस गेल जो आज अलग ही मूड में थे। उन्होंने काईल जेमीसन के एक ही ओवर में पांच चौके लगाकर अपने मंसूबे साफ कर दिए। क्रिस गेल और राहुल ने तीसरे विकेट के लिए 80 रन जोड़े। गेल के आउट होने के बाद पूरन और हुड्डा कुछ कमाल नहीं कर सके। आखिरी विकेट के लिए हरप्रीत बरार और केएल राहुल ने ताबड़तोड़ 61 रन जोड़े। केएल राहुल आखिर में 91 रन बनाकर नाबाद रहे। 


बैंगलोर की तरफ से जेमिसन को दो और चहल, सैम्स, और शहबाज को एक एक विकेट मिला। 


बैंगलोर के बल्लेबाजों का फ्लॉप शो

विराट की टीम जिस फॉर्म में थी उसको देखते हुए उनके लिए ये स्कोर हासिल करना उतना मुश्किल नहीं लग रहा था। लेकिन जब एक के बाद एक विकेट गिरने लगे और बल्लेबाज रनों की खोज में तड़पते हुए नजर आए तब ऐसा लगा कि विराट की टीम बिश्नोई का तो पूरा होमवर्क करके आई थी लेकिन दिक्कत बनकर आउट ऑफ सिलेबस हरप्रीत बरार आ गए। बरार ने आरसीबी के तीन सबसे बड़े बल्लेबाजों को आउट कर मैच को लगभग एकतरफा कर दिया।


शुरुआत में ही देवदत्त मेरेडिथ के गेंद पर बोल्ड हो गए। उसके बाद विराट कोहली और रजत पाटीदार भी पिच पर फंसे हुए नजर आए। विराट कोहली 31 रन बनाकर हरप्रीत की गेंद पर बोल्ड हो गए और अगले ही गेंद पर ग्लेन मैक्सवेल को भी उन्होंने बोल्ड कर दिया। मैक्सवेल के चेहरे से ऐसा लग रहा था कि मानो उन्हें समझ ही नहीं आया की क्या हुआ ? 13वें ओवर में बरार ने एबी डिविलियर्स को भी राहुल के हाथों कैच कराकर मैच को उसी वक़्त पंजाब की जेब में डाल दिया। इसके बाद मानो औपचारिकता ही रह गई थी। अंत में पंजाब ने इस मैच को 36 रनों से जीत लिया। 


पंजाब की तरफ से बिश्नोई और हरप्रीत ने शानदार गेंदबाजी की। दोनों में मिलकर आठ ओवर डाले और दोनों ने मिलकर कुल पांच विकेट झटके जिसमें से बरार ने तीन और बिश्नोई ने दो खिलाड़ियों को आउट किया। हरप्रीत बरार को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।