मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक ट्वीट के माध्यम से कहा "कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर, राज्य में शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। आप सभी से अपील है कि कर्फ्यू के दौरान सरकार का सहयोग करें और कोविड उपयुक्त व्यवहार का पालन करें।

उन्होंने कहा कि फल, सब्जियां, दूध, एलपीजी और बैंकिंग सेवाओं को भी कर्फ्यू के दौरान इस श्रेणी में शामिल किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा- पहले राज्य के 17 जिलों में कोरोना के अधिक मामले थे, लेकिन पिछले कुछ दिनों में संक्रमण सभी जिलों में तेजी से फैल गया है। अब राज्य में कोरोना के 6,658 नए मामले और 33 मौतें हुई हैं। इसलिए आज सप्ताहांत कर्फ्यू के लिए एक सख्त निर्णय लिया गया है।

गहलोत ने आगे कहा कि अगर समय रहते कठोर कदम नहीं उठाए गए तो स्थिति अन्य राज्यों की तरह विकट स्थिति बन सकती है। आम आदमी से एकजुटता दिखाने और पूर्व की तरह एक दूसरे का सहयोग करने की अपील है। राजस्थान सरकार हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है"।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, राज्य में 17 अप्रैल को होने वाले तीन विधानसभा क्षेत्रों सहाड़ा, सुजानगढ़ और राजसमंद के उपचुनाव में मतदान और पूरी प्रक्रिया में भी दिशा-निर्देश जारी किए जायेंगे।