देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले और उन से हो रही मृत्यु के बीच ख़बर आई है कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के रजिस्ट्रार जनरल आशु गर्ग का शुक्रवार को निधन हो गया। उनकी मृत्यु का कारण भी कोरोना महामारी ही है। इसकी जानकारी एनजीटी ने दी है।

बीमारी का पता चलने के बाद  उन्हें पश्चिम विहार के बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टीट्यूट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका इलाज चल रहा था। लेकिन वो कोरोना वायरस से यह जंग हार गए और उनकी मृत्यु हो गई। एनजीटी ने अपने रजिस्ट्रार जनरल के निधन की सूचना सर्कुलर कर जारी कर सबको दी है।

गर्ग ने अपने करियर की शुरुआत 2007 के दिल्ली न्यायिक सेवा में सफलता प्राप्त करने के बाद की थी। उन्हें न्यायिक अधिकारी के रूप में जिला अदालतों में नियुक्त किया गया था। बाद में उनकी पदोन्नति हुई और दिल्ली उच्चतर न्यायिक सेवा में सम्मिलित हुए। वे जिला अदालत में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश भी बनाए गए। उन्होंने पिछले वर्ष के पहले महीने जनवरी में एनजीटी में रजिस्ट्रार जनरल के पद पर नियुक्त किया गया था। 

बता दें कि राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के नए 19,832 मामले सामने आए हैं। जिसके बाद राज्य में कुल 12,92,867 मामले बताए जा रहे हैं। अगर मौत की आंकड़ों पर नज़र डाली जाए तो पिछले 24 घंटों में 341 लोगों की संक्रमण से मृत्यु हो गई है। जिसके बाद मौत के कुल आंकड़े 18,739 बताए जा रहे हैं।