देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के बेकाबू हो रहे मामलों की वजह से अस्पतालों पर दबाव बढ़ना शुरू हो गया है। हालात यह है कि यह कई अस्पतालों में बेड्स और ऑक्सीजन की भारी किल्लत चल रही है। इसी बीच एक राहत की ख़बर आई है। दिल्ली के छतरपुर इलाके में सोमवार को सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर की शुरुआत की गई हैं।

छतरपुर के सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर में 500 ऑक्सीजन बेड की सुविधा उपलब्ध है। जबकि 200 आईसीयू बेड की सुविधाओं को जल्द शुरू करने की बात भी कही गई है। वहीं इस कोविड केयर सेंटर के संचालन की जिम्मेदारी आईटीबीपी के हाथों में दी गई है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार की सुबह इस कोविड केयर सेंटर का दौरा किया और तैयारियों का जायजा भी लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज से यहां 500 बेड्स की सर्विस शुरू की जा चुकी है, जबकि अन्य बेड्स भी जल्द ही जोड़ दिए जाएंगे। यहाँ 200 आईसीयू बेड्स उपलब्ध कराने की सुविधा भी की जा रही है। दिल्ली सरकार की तरफ से केंद्र सरकार को मेडिकल स्टाफ देने के लिए शुक्रिया।

जानकारी हो कि इस कोविड केयर सेंटर में सीधे मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा है। बल्कि एडमिट होने के लिए गाइडलाइंस तैयार की गई है। जिसके तहत या तो मरीजों को यहाँ अस्पताल से रेफर किया जाएगा या फिर सीधे एडमिट किए जाने के लिए जिला निगरानी अधिकारी (DSO) की परमिशन लेनी पड़ेगी।

इसके अलावा मरीजों को कुछ जानकारी लैंडलाइन पर कॉल करके देनी होगी-

नाम :

उम्र :

पता :

कांटेक्ट नंबर :

SPO 2 लेवल :

पल्स रेट :

अन्य कोई गंभीर बीमारी या लक्षण :


जिन भी मरीजों को यहाँ भर्ती के लिए लाया जाएगा उनकी रिसेप्शन पर ही संपूर्ण जांच की जाएगी। जिसके बाद ही बेड्स अलाॅट होंगे। मरीजों को यहां एक किट दी जाएगी। इसके अलावा दवा, खाना, इलाज सब मुफ़्त किया जाएगा।

आपको बता दें कि सोमवार सुबह को सेंटर खुलने के बाद से ही एंबुलेंस की कतार खड़ी हो गई है। लोग अपने परिजनों को इस सेंटर में भर्ती करना चाहते हैं लेकिन अभी कई लोगों के पास DSO की इजाज़त नहीं है। लेकिन जहाँ एक तरफ दिल्ली के लोगों को बेड्स और ऑक्सीजन की किल्लतों से मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है और कई लोगों की जान तक चली गई। वहीं अब इस सेंटर के खुलने से लोगों कुछ राहत ज़रूर मिलेगी।