गजब गुरुवार के दिन डी कॉक के शानदार अर्धशतक और कृणाल पंड्या की उपयोगी पारी के बदौलत कोलकाता के 172 रनों के लक्ष्य को मुंबई की पलटन ने आसानी से हासिल कर लिया। 


संजू और बटलर की अच्छी पारी - 

टॉस हारने की वजह से राजस्थान को पहले बल्लेबाजी करने का मौका मिला। राजस्थान की शुरुआत अच्छी रही और उनके ओपनर जायसवाल और बटलर ने पहले विकेट के लिए 66 रन जोड़े। इसके बाद संजू सैमसन और शिवम दुबे की पारियों की मदद से राजस्थान 171 रन बनाने में सफल रही। हालांकि राजस्थान अनुमानित कुल स्कोर से 20 रन पीछे रह गई ऐसा उनके कप्तान सैमसन ने मैच के बाद कहा। 


मुंबई के तरफ से राहुल चहर ने दो और जसप्रीत बुमराह ने एक विकेट लिया। 


डी कॉक की फॉर्म वापसी - 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम की शुरुआत भी अच्छी रही और पहले पावरप्ले में मुंबई के सलामी बल्लेबाजी ने 49 रन बनाए लेकिन इसी दौरान रोहित शर्मा आउट हो गए। रोहित के बाद सूर्य कुमार यादव भी 10 गेंदों पर 16 रन बनाकर चलते बने। हालांकि इसके बाद डी कॉक और कृणाल पंड्या के बीच 63 रनों की साझेदारी हुई और मुंबई ने अपनी जीत भी सुनिश्चित कर ली। अंत में पोलार्ड ने भी बहती गंगा में हाथ धोते हुए आठ गेंदों में 16 रन बनाकर मुंबई को आसानी से जीत दिला दी। क्विंटन डी कॉक को 70 रनों की पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का अवार्ड मिला।


राजस्थान की तरफ से क्रिस मॉरिस ने चार ओवर में 33 रन देकर रोहित शर्मा और सूर्य कुमार का विकेट अपने नाम किया।