पश्चिम बंगाल में दूसरे चरण की वोटिंग सुर्खियों में हैं। लेकर लगातार टीएमसी और बीजेपी के बीच टकराव देखने को मिल रहे है। इसी बीच चर्चे में निर्वाचन क्षेत्र नंदीग्राम से मतदान के समय पोलिंग बूथ पर टीएमसी और बीजेपी में झड़प हुई। जिसके कारण मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य के गवर्नर जगदीप धनखड़ को फोन मिलाया और बूथ पर हो रही हिंसा को लेकर शिकायत की।


हॉट सीट नंदीग्राम में हो रहे चुनाव दिन प्रतिदिन और भी दिलचस्प होते जा रहे हैं क्योंकि यहां की सीट पर दो दिग्गज राजनेता चुनाव लड़ रहे हैं। एक जो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री है,ममता बनर्जी तो वहीं दूसरी तरफ हाल ही में टीएमसी का दामन छोड़ बीजेपी में शामिल होने वाले और नंदीग्राम की सीट पर पिछली बार राज कर चुके शुभेंदु अधिकारी खड़े है।


ममता ने दिन भर घर से ही चुनावी गतिविधियों पर नजर रखी थी। लेकिन जब दोनों पार्टियों की झड़प की खबर सामने आई तब करीब दोपहर 1 बजे वह मतदान केंद्र के लिए निकली। ममता व टीएमसी के सीनियर नेता डेरेक ओब्रायन ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर बूथ कैप्चरिंग और बूथ रिंगिंग का आरोप लगाया। इस बीच ममता में यह भी कहा कि दूसरे राज्य से गुंडे आकर यहां का माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे है और नारेबाजी करने वाले लोगो को बिहार व उत्तर प्रदेश से लाया गया है, जिन्हें केंद्र सुरक्षा प्रदान कर रहा है।  चुनाव में हो रही गतिविधियों को लेकर ममता ने यह भी कहा कि सुबह से 63 बार चुनाव आयोग से इसकी शिकायत कर चुकी है लेकिन अभी तक चुनाव आयोग ने इसे लेकर कोई सख्त कदम नहीं उठाया।