देश में कोरोना संकट से इस वक्त सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र है। राज्य में हालात इतने बिगड़ चुके हैं कि एक बार फिर से लॉकडाउन लगने के पूरे आसार बन गए हैं। इसी मामले पर कैबिनेट ने मुख्यमंत्री से पूरे राज्य में सख्त लॉकडाउन लगाने की सिफ़ारिश की है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने मंगलवार को बताया कि महाराष्ट्र में इस समय गंभीर लॉकडाउन की आवश्यकता है। इसीलिए इस बात को कैबिनेट की बैठक में प्रमुखता से रखते हुए पूरे राज्य में सख्त लोकडाउन लगाने की सिफारिश की गई है। उन्होंने कहा कि स्थिति इतनी गंभीर हो गई है कि इस समय राज्य में लॉकडाउन लागू करने के अलावा हमारे सामने और कोई दूसरा विकल्प नहीं बचा है। इस पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राज्य के हालात को देखते हुए कल फैसला लेंगे। 

टोपे ने आगे कहा कि इस समय स्वास्थ्य सेवाओं पर दबाव बहुत अधिक है और राज्य में संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। साथ ही उन्होंने ऑक्सीजन की हो रही कमी पर चिंता भी व्यक्त की।

वहीं महाराष्ट्र के मंत्री असलम शेख ने कहा कि मेडिकल ऑक्सीजन की कमी के चलते महाराष्ट्र पूर्ण लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है। जल्द ही इससे संबंधित दिशा-निर्देशों को घोषित किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने मुख्यमंत्री से अनुरोध करते हुए कहा कि कल बुधवार रात 8 बजे से राज्य में पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की जाए। यह सभी मंत्रियों का राज्य के मुख्यमंत्री से अनुरोध था। उन्होंने आगे कहा कि मुख्यमंत्री कल रात 8 बजे के बाद इस पर निर्णय सुनाएंगे।

बता दें कि महाराष्ट्र में 14 अप्रैल रात 8 बजे के बाद से 15 दिन के लिए मिनी लॉकडाउन लागू किया जा चुका है। लेकिन हालात काबू में नहीं आ पा रहे हैं जिसके चलते कैबिनेट ने मुख्यमंत्री से संपूर्ण लॉकडाउन की सिफ़ारिश की हैं।