कोरोना को लेकर अलग अलग राज्य अपने अपने स्तर पर कोरोना की रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं। हाल ही में मध्य प्रदेश और पड़ोसी राज्यों में बढ़ते कोरोना को देखते हुए, मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने मध्य प्रदेश में स्थिति को खतरनाक होने से रोकने के लिए पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र की सीमा से आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है और छत्तीसगढ़ की सीमा को लेकर भी जल्द ही प्रतिबंध लगाने के बारे में सोच रहे हैं। जिसके बाद केवल बहुत जरूरी कार्य होने पर जैसे मालवाहक, आवश्यक सेवा, या कोई आपातकाल में ही आवाजाही की अनुमति है। 


इस दौरान शिवराज चौहान ने यह भी कहा कि जरूरी है, हम कोरोना में बरते जाने वाली सावधानियों का खास ध्यान रखें व खुद के साथ दूसरों को भी लापरवाही बरतने से रोके। बिना मास्क पहने बाहर न निकले ऐसा करने पर जुर्माना भरना पड़ सकता है और कुछ समय के लिए ओपन जेल में भी रखा जा सकता है। वहीं दूसरी ओर जिन जिलों में लॉकडाउन लगे हुए हैं वहां वैक्सीनेशन का काम जारी रहेगा। मुख्यमंत्री ने इंदौर शहर में दस हजार बिस्तर और बढ़ाने की बात कही है।


मध्यप्रदेश में अभी तक कुल 20,369 एक्टिव केसेस हैं, वहाँ 4,029 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है। प्रदेश में टीकाकरण का काम जोर-शोर से चल रहा है, अभी तक कुल 31,21,393 लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है।