इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के गेंदबाज एडम जांपा ने बीच में ही छोड़ दिया है। उनके अलावा आरसीबी के ही तेज़ गेंदबाज केन रिचर्डसन भी लीग को बीच में छोड़ कर एडम जांपा के साथ मंगलवार रात को ऑस्ट्रेलिया वापस लौट गए। घर वापसी के बाद जांपा ने आईपीएल को बीच में छोड़ने का कारण बताया।

ऑस्ट्रेलिया के इस लेग स्पिनर ने बताया कि भारत में बायो-बबल छोड़ने के बाद उतना सुरक्षित महसूस नहीं होता था जितना यूएई में आईपीएल 2020 के दौरान महसूस होता था। उन्होंने कहा, 'बेहतर होता कि आई पी एल 2021 भी यूएई में खेला जाता। चूंकि टूर्नामेंट भारत में खेला जा रहा है, इस वज़ह से ज्यादा डर लग रहा है। हमें यहाँ हमेशा हाइजीन और अधिक सुरक्षा बरतने को कहा जाता है। मुझे यही सबसे अजीब लगता है।' एडम जांपा ने आगे कहा, '6 महीने पहले दुबई में जो आईपीएल हुआ था, उसमें ऐसा नहीं था। मुझे लगता है कि वह काफ़ी अधिक सुरक्षित था। निजी तौर पर मेरी राय है कि इस बार भी आईपीएल को वहीं करवाया जाना चाहिए था। लेकिन इसमें कई बार राजनीति वगैरा भी होती है।' उन्होंने अपने कथन को जारी रखते हुए कहा, 'बेशक, इस साल के आखिर में यहां T20 वर्ल्ड कप भी होना है। क्रिकेट की दुनिया में अगला बड़ा फैसला इस पर होना है। 6 महीने बड़ा वक्त होता है।'

बता दें कि भारत में अब तक कोरोना वायरस के कुल 1,73,13,163 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं संक्रमण से अब तक मरने वालों की संख्या 1,95,113 हैं।