दुनिया भर में कोरोना का संक्रमण बहुत तेजी फैल रहा है, जिससे सभी देशों की काफ़ी बुरी स्थिति है। ऐसे में, इंडियन काउंसिल ऑफ मैडिकल रिसर्च ( ICMR ) ने भारत में 6 अन्य टेस्टिंग किट को मंजूरी दी है। आईसीएमआर के इस निर्णय से जापान, यूरोप, दक्षिण कोरिया, ब्राजील की बाहरी एजेंसियाँ , ऑस्ट्रेलिया और WHO कि इमरजेंसी इस्तेमाल में होने वाली एजेंसीयों को भी लाभ होगा। बता दें, भारत में अभी इस्तेमाल होने वाली किट में दो नाम शामिल हैं पहली RT-PCR और दूसरी Rapid Antigen Test. अब भारत में अलग-अलग देशों मे इस्तेमाल होने वाली कोरोना टेस्टिंग किट को सरलता से प्रयोग किया जाएगा।

WHO की इमरजेंसी यूज़ कि सूची में शामिल होने वाली कुछ एजेंसियाँ हैं, उन्हें भी भारत में कोरोना टेस्टिंग किट के लिए पुष्टि कराने की जरूरत नहीं है। अभी कुछ किट्स को अमेरिका की फूड एंड ड्रग रेगुलेटर ( USFDA) ने छूट दी है, जिसमें उसे भारत में पुष्टि कराने की जरूरत नहीं होगी, उसे ड्रग कंट्रोलर जेनरल ऑफ इंडियन से सीधा मार्केटिंग के लिए अनुमति दी जाएगी।

ICMR के इस कदम से सभी को काफी लाभ होने वाला है , इससे टेस्टिंग प्रक्रिया में तेज़ी आएगी। इस महामारी ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया है। सैकड़ों लोग इससे प्रभावित हो रहे हैं, रोजाना कई लोग इससे अपनी जान गंवा रहे हैं। अस्पतालों में अब हर तरह की कमी सुनने में आ रही है कहीं ऑक्सीजन बेड तो कहीं दवाईयां। ऐसे में लोगों की नज़रें केवल सरकार कि उन कामों पर है, जिससे लोग अपने आप को संक्रमित होने से बचा सकें।