आईपीएल के 14वें संस्करण में सिर्फ हैदराबाद एक ऐसी टीम थी जिसने अभी तक जीत का खाता नहीं खोला था लेकिन बुधवार को खेले गए पहले मुकाबले में पंजाब को 9 विकेट से हराकर अपनी हार की चेन को तोड़ा। 


पंजाब की बल्लेबाज़ी बनी कमजोरी - 

पंजाब किंग्स के कप्तान केएल राहुल ने पहले टॉस जीता और बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। पंजाब की बल्लेबाजी शुरू से ही हल्की दिख रही थी। कप्तान राहुल का बल्ला खामोश रहा तो यूनिवर्स बॉस क्रिस गेल भी अभी तक इस आईपीएल में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए हैं। निकोलस पूरन और दीपक हुड्डा का खराब फॉर्म यहां भी जारी रहा। पंजाब जैसे तैसे अपनी टीम का स्कोर 120 तक पहुंचने में सफल रही। 


सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ से सभी गेंदबाजों ने किफायती गेंदबाजी की। खलील अहमद ने तीन विकेट लिए, अभिषेक शर्मा ने दो, वहीं भुवनेश्वर, सिद्धार्थ कौल और राशिद के खाते में एक एक विकेट मिला। 


वार्नर और बैरस्तो ने दिलाई आसान जीत - 

महज 120 रनों में हैदराबाद कहाँ मैच हारने वाली थी। हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर और जॉनी बेयरस्टो ने पहले विकेट के लिए 73 रन जोड़े और हैदराबाद की जीत सुनिश्चित कर दी। हालांकि डेविड वार्नर के आउट होने के बाद बचा हुआ काम केन विलियमसन ने पूरा किया और हैदराबाद आसानी से इस मैच को 9 विकेट से जीत लिया। 


जॉनी बेयरस्टो को उनकी शानदार 63 रनों की पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का अवार्ड मिला। 

बुधवार को खेले गए दूसरे मुकाबले में चेन्नई ने कोलकाता को 18 रनों से हराकर अंकतालिका में शीर्ष पर अपनी जगह कायम कर ली है।