कोरोना के आकड़ों में आई उछाल ने एक बार फिर से सभी को चिंता में डाल दिया है। इसी संकट को देखते हुए केंद्र व राज्य सरकार अपने-अपने स्तर पर जी तोड़ कोशिश में लगे हैं, जिससे स्थिति को संभाला जा सके। गाजियाबाद और नोएडा में अचानक से कोरोना केसेस को बढ़ते हुए देख धारा 144 लागू किया गया है।

कोरोना के बढ़ते मामले और त्योहारों की धूमधाम के कारण कोरोना केसेस बढ़ने का खतरा दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। गाजियाबाद में 25 मई तक सीआरपीसी की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए गए हैं। इसके तहत कोरोना में बरती जाने वाली सावधानियों को और भी सख्त कर दिया गया है। सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क के प्रवेश की बिल्कुल मनाही है।

हाल ही में बुधवार के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रीयो के साथ मीटिंग की थी। जिसमें प्रधानमंत्री ने कहा, हम सभी को कोरोना वायरस की दूसरी लहर की रोकथाम के लिए उचित कदम उठाने की जरूरत है। धीरे-धीरे यह समय साल भर पहले वाली स्थिति ही उत्पन्न कर रहा है। जहां लोगों ने इस महामारी के कारण बहुत ही मुश्किल समय गुजारा था। 102 दिन बाद देश में यह परिस्थिति वापस आई है, जब देश भर में 24 घंटों में 35 हजार केसेस सामने आए है।