कोरोनावायरस की दूसरी लहर ने भारत को अंदर से झंझोर के रख दिया हैं। हर दिन हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। इसी बीच फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कोरोना संकट से बचने के लिए भारत के तरफ मदद का हाथ बढ़ाया है।

इमैनुएल मैक्रों ने कहा, 'मैं कोविड-19 के दोबारा बढ़ते मामलों का सामना कर रहे भारतीयों को एकजुटता का संदेश देना चाहता हूं। इस संघर्ष में फ्रांस आपके साथ है। इस महामारी ने किसी को नहीं छोड़ा है। हम आपको सपोर्ट करने के लिए तैयार है।'

भारत में संक्रमण के तेज़ी से बढ़ रहे मामलों को देखते हुए फ्रांस ने भारत से आने वाले लोगों को 10 दिन तक क्वॉरेंटाइन करने का फैसला किया है। वहीं ब्रिटेन, कनाडा और पाकिस्तान ने भारत को रेड लिस्ट में डाल दिया है। जिसके साथ इन देशों ने भारत से आने वाले विमानों पर भी रोक लगा दी हैं।

बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी की गई सूची के अनुसार पिछले 24 घंटों में भारत में 3 लाख 46 हजार से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में आए हैं। जबकि संक्रमण से जान गवाने वाले लोगों की संख्या 2624 हैं। जिसके बाद भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 करोड़ 66 लाख से अधिक हो गई हैं और भारत मे 1 लाख 89 हजार 544 लोगों ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया हैं।