88 वर्षीय पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कोरोना को मात देकर अस्पताल से छुट्टी लेकर घर आ चुके हैं और अब उनकी तबीयत ठीक है। पूर्व पीएम 19 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव हुए थे, जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनमोहन सिंह कोरोना वैक्सीन 'कोवैक्सीन' की दोनों डोज़ ले चुके हैं। 4 मार्च को पत्नी गुरशरण कौर के साथ एम्स में मनमोहन सिंह ने पहली डोज ली थी। प्रधानमंत्री शुगर के मरीज हैं और उनकी दो बायपास सर्जरी भी हो चुकी है। 

कुछ दिनों पहले ही मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा था, उन्होंने भारत को कोरोना से बचाने के लिए पीएम को कुछ सलाह दी थी। जिसमें कहा था कि देश में टीकाकरण प्रक्रिया को तेज करना होगा और ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सिन लगानी होगी, साथ ही दवाओं की कमी पर भी ज़ोर देना होगा। उन्होंने कहा पूरी आबादी को नहीं देखना चाहिए, हमें ये देखना चाहिए कि कितने पर्सेंट लोगों को वैक्सीन लगा दी गई है। 

पिछले साल भी कोरोना के समय पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तबीयत खराब हुई थी, जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। मनमोहन सिंह, 2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं और अभी वर्तमान में राजस्थान से राज्यसभा सदस्य हैं।