कोरोना के इस घातक काल में डॉक्टरों के साथ-साथ पुलिसकर्मी भी फ्रंटलाइन वर्कर बनकर लोगों की सेवा में लगातार लगे हुए हैं। इसके अलावा पुलिसकर्मी लोगों से कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन भी करवा रहे हैं। इस दौरान कुछ पुलिसकर्मी ड्यूटी करते समय या तो कोरोना का शिकार हो रहे हैं या फिर उनके साथ कुछ दूसरी दुखद दुर्घटना घट रही है। ऐसा ही कुछ दिल्ली के वसंत विहार में एक पुलिस कांस्टेबल के साथ हुआ, जहाँ उन पर एक गाड़ी चढ़ा दी गई और तकरीबन 40 मीटर तक घसीटा गया और फिर अस्पताल में उन्होंने अपना दम तोड़ दिया।

यह घटना दिल्ली के वसंत विहार में सुबह 4 बजे की बताई जा रही है, जहां पुलिस कॉन्स्टेबल मुंशीलाल अपनी ड्यूटी कर रहे थे। तभी तेज़ रफ़्तार में एक सफेद रंग की गाड़ी उनकी तरफ आई और टक्कर मार गिई। यह टक्कर इतनी जोरदार रही कि पुलिस का टेंट पूरी तरह से तबाह हो गया, वहां खड़ी बाइक्स भी चकनाचूर हो गई और वह गाड़ी मुंशीलाल को 40 मीटर तक घसीटती चली गई। इस घटना से पुलिस कांस्टेबल गंभीर रूप से जख्मी हो गए, जिसके बाद उन्हें AIIMS में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि घाव इतने गहरे थे कि डॉक्टरों की लाख कोशिशों के बावजूद भी उन्हें बचाया नहीं जा सका और उन्होंने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

बता दें कि पुलिस ने आरोपी समित यादव को हिरासत में ले लिया है। पूछताछ के दौरान पता चला कि समित गुड़गांव के मैक्स अस्पताल से वापस आ रहे थे, जहां उनकी पत्नी का कोविड-19 का इलाज़ चल रहा है। रास्ते में उनकी अचानक आंख लग गई और उनसे यह दुर्घटना हो गई। पुलिस की तरफ से कई धाराओं के साथ आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। क्योंकि आरोपी की पत्नी कोविड पॉजिटिव है इसलिए सुमित को पीपीई किट पहनाकर पुलिस स्टेशन में ही आइसोलेट कर दिया गया है। ख़बर यह भी है कि पुलिस आरोपी का बहुत जल्द मेडिकल टेस्ट करवाने जा रही है ताकि यह पता चल सके कि गाड़ी चलाते समय आरोपी ने नशा तो नहीं कर रखा था।