कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने आईपीएल के त्यौहार का रंग बिल्कुल फीका कर दिया है। आईपीएल के पहले सीजन की विजेता राजस्थान रॉयल्स वायरस की दूसरी लहर के कारण मुश्किल में नजर आ रही है। राजस्थान रॉयल्स की टीम ने इस सत्र में अब तक पांच मैच खेले हैं जिसमें उन्हें सिर्फ दो में जीत मिली है और बाकी मैचों में हार का सामना करना पड़ा है।  


चोट और आईपीएल के BIO-BUBBLE नियम से थकान और तनाव के कारण उनके चार विदेशी खिलाड़ियों ने आईपीएल से अपना नाम वापस ले लिया है। 


टूर्नामेंट की शुरुआत में ही राजस्थान को बहुत बड़ा झटका लगा था जब उनके स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स चोट की वजह से पूरे आईपीएल से बाहर हो गए थे। वहीं तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर भी चोटिल होने की वजह से आईपीएल से बाहर हैं जबकि लियम लिविंगस्टोन और एंड्रयू ट्राई भी अब आईपीएल से नाम वापस ले कर स्वदेश लौट चुके हैं। 


राजस्थान रॉयल्स के टीम मैनेजमेंट ने मौजूदा सत्र के लिए दूसरी टीमों से खिलाड़ियों को लोन लेने के लिए संपर्क किया है। टीम के सूत्र के अनुसार ' टीम खिलाड़ियों को लोन पर लेने की योजना बना रही है और इसके बारे में अन्य फ्रेंचाइजी को लिखा है लेकिन इसके बारे में अभी तक कोई निर्णय नहीं हुआ है। 


इस साल आईपीएल का लोन विंडो सोमवार यानी कल से शुरु हो गया है और यह लीग मैचों के अंत तक जारी रहेगा। नियमों के मुताबिक वह खिलाड़ी जिसने अभी तक दो या दो से कम मैच खेले हैं वह दूसरी टीम को लोन पर दिए जा सकते हैं और वह खिलाड़ी अपने घरेलू फ्रेंचाइजी टीम के खिलाफ कोई भी मैच नहीं खेल सकता है।