दिल्ली के फरीदाबाद में 2018 के रोंगटे खड़े कर देने वाले हत्याकांड पर आखिरकार कोर्ट का फैसला ही गया कोर्ट ने दोषी को 'हैंग टिल डेथ' यानी फांसी की सजा सुनाई और साथ ही ₹2000 का जुर्माना भी लगाया है दोषी शख्स ने अपनी पत्नी की हत्या कैची से गला काट कर दिया था उसके बाद उसने सिर के छोटे-छोटे टुकड़े क पन्नी में भर लाजपतनगर फ्लाईओवर से नीचे फेंक दिया था

मृत महिला अंजू अपने दोषी पति संजीव कौशिक के साथ ग्रीन फील्ड में रहती थी दोनों के संबंध कुछ ठीक नहीं थे और मनमुटाव अक्सर बना रहता था लेकिन इस मनमुटाव ने 17 मार्च 2018 को भयानक रूप ले लिया मृतक के भाई बृजेश शर्मा जो गुड़गांव में रहते हैं का कहना है, उन्होंने कभी यह सपने में भी नहीं सोचा था कि पति-पत्नी के बीच का मनमुटाव एक दिन उनकी बहन की जान ही ले लेगा उन्होंने यह भी बताया की संजीव दिल्ली जल बोर्ड में काम करता था और उनका एक 15 साल का बेटा भी है जो कि उस समय अपने ताऊ के पास गया हुआ था मौका पा कर संजीव कौशिक ने उनकी बहन को मौत के घाट उतार दिया था