Corona Vaccine : ब्रिटेन के बाद अब अमेरिका में भी कोरोना वैक्सीन फाइजर का टीकाकरण जल्द शुरू

पिछले एक साल से पूरी दुनिया  कोरोना वायरस के कहर से जुझ रही है | लोग लंबे समय से  कोरोना वैक्सीन का इंतजार कर रहे थे, अब उनका इतंजार खत्म होते हुए दिख रहा है|

ब्रिटेन दुनिया का पहला देश है, जहां कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण सबसे पहले शुरू हुआ था, 8 दिसंबर  को ब्रिटेन में कोरोना वैक्सीन फाइजर का टीकाकरण शुरू हुआ | ब्रिटेन में  फाइजर वैक्सीन सबसे पहले 80 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गो, डाॅक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को लगाया जा रहा है |

ब्रिटेन के बाद अब अमेरिका में भी कोरोना वैक्सीन फाइजर के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है| शनिवार को अमेरिका रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र की टीकाकरण से जुड़ी समिति ने  16 साल और इससे अधिक उम्र के लोगों को टीका देने के समर्थन में मतदान किया |

फाइजर कंपनी ने कोरोना के टीकों की पहली खेप मिशिगन स्थित अपने गोदाम से रवाना भी कर दी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गोदाम से ट्रकों में भरकर टीकों की 1 लाख 84 हजार 275 शीशियों को रवाना किया गया। वैक्सीन की ये खेप अमेरिका में पहले से तय 636 जगहों पर पहुंचाई जाएगी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिकी पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उपराष्ट्रपति माइक पेंस समेत व्हाइट हाउस से जुड़े उनके कुछ अधिकारियों को इस हफ्ते की शुरुआत में कोरोना वायरस का टीका लगाया जाएगा । न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले की जानकारी रखने वाले दो अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है। उनका कहना है कि ऐसा करने के पीछे का मकसद व्हाइट हाउस में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकना है।