यूपी के बिजनौर से एक दुल्हन के बेबसी की ऐसी ख़बर आई जिसे सुनकर आपके भी आंखों में आंसू भर आएंगे। जहाँ कोरोना ने एक दुल्हन से उसकी खुशियाँ ही छीन ली। महज़ 72 घंटों के अंदर वह दुल्हन सुहागन से विधवा हो गई। क्योंकि उसका पति कोरोना संक्रमित हो गया था और अस्पताल में इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

दरअसल बात यह है कि बिजनौर शहर के मोहल्ला जाटान निवासी अर्जुन की शादी चाँदपुर के कस्बा स्याऊ निवासी बबली के साथ 25 अप्रैल को हुई थी। दूल्हा अर्जुन बरात लेकर दुल्हन बबली को पूरे धूमधाम से लेने गया था। दिन में बरात की चढ़ाई हुई। उसके बाद जयमाल और फेरे की रस्म भी खुशी पूर्वक संपूर्ण हुई। जिसके बाद शाम को तकरीबन 7 बजे के करीब बारात दुल्हन को लेकर विदा हो गई। बारात दुल्हन को लेकर खुशी-खुशी बिजनौर भी पहुंच गई। दुल्हन का घर में बड़े ही धूमधाम से स्वागत किया गया। यहाँ तक तो सब कुछ ठीक था। लेकिन उसी रात सुहागरात के समय दूल्हे अर्जुन की अचानक तबीयत ख़राब हो गई। उसे बुखार आने लगा और बुखार बढ़ता चला गया।

तबीयत बिगड़ती जा रही थी, जिसके बाद आनन-फानन में दूल्हे अर्जुन को जिला सरकारी अस्पताल में ले जाया गया। जाँच में पता चला कि अर्जुन कोरोना संक्रमित है। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद उन्हें अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया। अर्जुन की हालत में कोई सुधार नहीं हो रहा था और तबीयत लगातार बिगड़ती चली गई।

पड़ोसियों के मुताबिक 29 अप्रैल गुरुवार सुबह को दूल्हे अर्जुन की कोरोना से मौत हो गई। मौत का कारण ऑक्सीजन की कमी बताया जा रहा है। दूल्हे के मौत की ख़बर से दोनों परिवारों में कोहराम मच गया और नई नवेली दुल्हन पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा। मोहल्ले में भी मातम छाया हुआ है। दुल्हन बबली कि नई गृहस्थी बसाने के सपने को इस कोरोना ने 72 घंटे के अंदर चकनाचूर कर दिए। 

बता दें, विभाग द्वारा परिवार के अन्य लोगों का भी कोरोना जाँच करवाया जा रहा है। जांच के लिए सैंपल लिए जा चुके हैं। लेकिन फिलहाल घर और मोहल्ले से कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है।