भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों की स्थिति में कहीं से भी सुधार देखने को नहीं मिल रहा है। एक-एक कर अब सभी राज्य अपने शहरों में लॉकडाउन की घोषणा कर रहे हैं या फिर पहले से लगाए गए लॉकडाउन को आगे बढ़ा रहे हैं, जिससे कि कोरोना की चेन को रोका जा सके। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर कोरोना के प्रती लापरवाही के आरोप लगाए हैं।

राहुल ने ट्वीट कर कहा कि सरकार की गलतियों का असर आज पूरे हिन्दुस्तान में देखने को मिल रहा है, लाखों निर्दोष लोग अपनी जान गंवा रहे हैं। भारत के हालात इस समय बहुत गंभीर हैं। जिसको सही करने का एकमात्र तरीका संपूर्ण लॉकडाउन है। बता दें कि पिछले साल जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया था उस समय राहुल गांधी ने उसका जमकर विरोध किया था। राहुल गांधी ही वह पहले नेता थे जिन्होंने भारत सरकार को करोना के प्रति आगाह किया था। साथ ही सरकार को इसके आर्थिक दुष्परिणामों के बारे में चेतावनी भी दिया था। 

साथ ही उन्होंने कहा सरकार को उन सभी गरीब वर्ग के लोगों की सुरक्षा के लिए 'न्यूनतम आय गारंटी' दिया जाए। विपक्षी नेता ने यह भी कहा कि सरकार ने कोरोना के मामले बढ़ाने में मदद की है ना कि सुधारने में। गौरतलब है कि इससे पहले भी राहुल गांधी ने कई बार सरकार को कोरोना के प्रति आरोप या फिर सुझाव देते हुए देखा गया है।