कोरोना के बढ़ते मामले के बीच मध्य प्रदेश में 'जनता कर्फ्यू' की घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को इस संबंध में घोषणा की। शिवराज ने कहा कि कोरोना संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए, राज्य में 15 मई तक हर चीज को बंद करना होगा।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, शिवराज ने कहा, "हम सभी चीजों को बहुत लंबे समय तक बंद नहीं रख सकते हैं, लेकिन 18 प्रतिशत से अधिक की संक्रमण दर के साथ, हम इसे खुला भी नहीं रख सकते हैं।"

मध्य प्रदेश में पिछले साल से 6,24,985 लोग संक्रमित हुए हैं। 5 मई तक कोरोना से राज्य में कुल 6,074 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। बुधवार रात तक राज्य में 12319 नए मामले सामने आए, जबकि 71 और लोगों की मौत हुई।

बुधवार को कोविद -19 के 1817 नए मामले इंदौर में, 1579 भोपाल में, 1174 ग्वालियर में और 826 नए मामले जबलपुर में आए। अब तक 5,29,667 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और सक्रिय रोगियों की संख्या अब 89,244 है।

गौरतलब है कि कोरोना मामलों को देखते हुए, कई राज्यों ने पहले ही लॉकडाउन या इसी तरह के प्रतिबंधों की घोषणा की है। इसमें दिल्ली, बिहार, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और केरल जैसे राज्य शामिल हैं। कई स्थानों पर रात का कर्फ्यू भी लागू है।