चेन्नई की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी - 

टॉस जीतकर कोलकाता के कप्तान मॉर्गन ने चेन्नई को पहले बल्लेबाजी का मौका दिया। चेन्नई के ओपनिंग बल्लेबाज ऋतुराज (64 रन) और फाफ (95 रन) ने पहली बार इस आईपीएल में पहले विकेट के लिए 100 रनों से ज्यादा कि साझेदारी की। ऋतुराज के बाद मोईन अली (25 रन) और धोनी( 17 रन) ने भी बहती गंगा ने अपना हाथ धोया। 20 ओवरों में चेन्नई ने 220 रनों का पहाड़ जैसा लक्ष्य खड़ा कर दिया। 


कोलकाता के तरफ से वरुण चक्रवर्ती ने किफायती गेंदबाजी की। चार ओवरों में 27 रन देकर एक विकेट लिया। 


रसल और कमिंस ने लाया मैच में रोमांच -

लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम ने मानो ड्रेसिंग रूम से ही हार मानकर आई थी। बल्लेबाजों का आलम कुछ ऐसा था कि "तू चल मैं आया"। कोलकाता ने अपना पांच विकेट महज 31 रनों के स्कोर पर गंवा दिया। इसके बाद आए रसेल शो और कमिंस शो। पहले रसल(54 रन) और दिनेश कार्तिक(40 रन) ने अपना बल्ला घुमाना शुरू किया। दोनों के बीच 81 रनों की साझेदारी हुई। इसके बाद आए पैट कमिंस( 66 रन) उन्होंने ने भी गेंदबाजी के दौरान लुटाए रनों की भरपाई अपने बल्ले के साथ करना चाहा लेकिन अंत में कोलकाता 18 रनों से पीछे रह गई। 


लूंगी अंगीदी और दीपक चाहर ने चेन्नई के लिए जबरदस्त गेंदबाजी की। लूंगी अंगिदी ने तीन तो वहीं दीपक चाहर ने कोलकाता के टॉप चार बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया। 


फाफ को उनकी 95 रनों की पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का अवार्ड मिला