तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी ने एक दूसरे पर मतदाताओं को धमकाने का आरोप लगाया।

पश्चिम मिदनापुर में, भाजपा के तन्मय घोष ने आरोप लगाया है कि उनकी कार पर टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हमला किया है। इसके साथ ही भाजपा की महिला एजेंट पर भी हमले की खबर है। वहीं, देबोरा में बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ता बूथ पर ही भिड़ गए। भाजपा उम्मीदवार भारती घोष ने टीएमसी पर एजेंट को धमकाने का आरोप लगाया। जिसके बाद टीएमसी ने बीजेपी पर पैसे बांटने का आरोप लगाया।

हंगामे के बाद पुलिस ने भाजपा के मंडल अध्यक्ष मोहन सिंह को हिरासत में ले लिया है। वहीं, सीपीआई-एम के कार्यकर्ताओं ने टायर जलाकर घाट में प्रदर्शन किया। उन्होंने आरोप लगाया कि टीएमसी कार्यकर्ता उन्हें रास्ते में रोक रहे थे और उन्हें अपना वोट डालने की अनुमति नहीं दे रहे थे।