पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के लिए कल चौथे चरण में वोट डाले जाएंगे। चुनाव प्रचार कल शाम को थम गया था लेकिन राज्य में हिंसा थमने का नाम नहीं ले रहा है

घटना कोलकाता के चेतला इलाके की है। चेतला में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के पैदल मार्च और जनसंपर्क कार्यक्रम में मारपीट और तोड़फोड़ का आरोप लगाया गया है।

वाहनों में बर्बरता के आरोप मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर हैं। इस मामले में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत ने पुलिस थाने में शिकायत भी दर्ज कराई है।

राज्य में हिंसा के लिए कांग्रेस ने टीएमसी और बीजेपी पर हमला किया। कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष चौधरी ने कहा कि चुनाव पश्चिम बंगाल के अलावा तीन अन्य राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में भी हुए, लेकिन बूथ कैप्चरिंग, रक्तपात और हमलों की घटनाएं हमारे राज्य में ही सुनी जरही है टीएमसी और भाजपा इसके लिए जिम्मेदार हैं।

गेरातलत है कि विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रमुख नेता और स्टार प्रचारक मतदाता को लुभाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। चौथे चरण में, दक्षिण 24 परगना जिले की 11 सीटों, हुगली जिले की दस सीटों, हावड़ा और कूचबिहार जिलों की 9 और अलीपुर द्वार जिले की पाँच सीटों के लिए मतदान होगा। इस चरण में 373 उम्मीदवार मैदान में हैं।