पश्चिम बंगाल में इस वक्त चुनाव का माहौल है और इसी चुनावी सरगर्मियों के बीच CBI ने भी अपना एक्शन तेज कर दिया है। कोयला तस्करी मामले में अपनी जांच को आगे बढ़ाते हुए CBI अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के घर तक पहुंच चुकी है। ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजीरा नरूला से CBI ने इस मामले में मंगलवार को पूछताछ की है जिसके लिए CBI मंगलवार को अभिषेक बनर्जी के घर भी पहुंची थी। सूत्रों से पता चला है कि CBI की टीम  सवालों की लिस्ट लिए अपनी पूरी तैयारी के साथ पूछताछ करने पहुंची थी जिनमे मसलन अनूप मांझी से आपका रिश्ता??, अनूप मांझी ने आपके खाते मे पैसे क्यूँ डाले?? जैसे सवाल शामिल थे। आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि अनूप मांझी का नाम इस पूरे मामले में मुख्य आरोपी के तौर पर सामने आया है।

CBI ने रुजीरा बनर्जी को बीते सोमवार नोटिस भेजा था जिसके जवाब मे रुजीरा बनर्जी ने CBI को चिट्ठी लिख कर 23 फ़रवरी को घर पर ही पूछताछ करने के लिए कहा।

इसी बीच सांसद और टी एम सी नेता अभिषेक बनर्जी की साली मेनका गंभीर से भी सीबीआई ने पूछताछ की है।

क्या है मामला :

असल में CBI ने 27 नवंबर 2020 को ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड (ECL) के कई अधिकारियों, कर्मचारियों, अनूप मांझी, सी आई एस एफ और रेल्वे के कई अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। आरोप ये था कि इन अधिकारियों की मदद से ECL के लीजहोल्ड क्षेत्रों से कोयले की तस्करी और चोरी की गई है।

CBI द्बारा ये FIR मई 2020 मे लीज एरिया में टास्क फोर्स द्बारा की गई कई छापेमारी के बाद दर्ज किया गया था। दर्ज FIR मे अनूप मांझी को अवैध खनन का मुख्य आरोपी बनाया गया।

पिछले साल 28 नवंबर को पश्चिम बंगाल के 45 जगहों पर छापे मारे गए इसी बीच टी एम सी नेता अभिषेक बनर्जी के करीबी विनय मिश्रा के घर भी छापा मारा गया और उनके खिलाफ़ ग़ैर ज़मानती वारंट और लुकआउट  नोटिस भी जारी कर दिया गया।

बहरहाल कुछ सुत्रों का कहना है कि जांच के दौरान कुछ बयानों मे रुजीरा बनर्जी का नाम सामने आने के बाद CBI ने उनसे पूछताछ की है।