दिल्ली कैपिटल के मुख्य कोच रिकी पोंटिंग ने भारत के युवा ओपनर बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को लेकर कुछ बड़े खुलासे किए हैं। आईपीएल के चौदहवें सीजन की शुरुआत से पहले पोंटिंग ने बताया कि पृथ्वी शॉ उनकी बात नहीं मानते। पिछले सत्र में जब पृथ्वी खराब फॉर्म से जूझ रहे थे तो उन्होंने आँखों में आँखें डालकर नेट पर बल्लेबाजी करने से इंकार कर दिया था। 


पोंटिंग ने उम्मीद जताई है कि इस युवा बल्लेबाज ने आगामी आईपीएल सीजन से पहले अपने अच्छे फॉर्म के लिए अपनी ट्रेनिंग और आदतों में सुधार किया होगा। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग पिछले 2 साल से दिल्ली कैपिटल्स के लिए मुख्य कोच के तौर पर काम कर रहे हैं। 


चेन्नई में 9 अप्रैल से शुरू हो रहे आईपीएल से पहले पोंटिंग ने एक इंटरव्यू में कहा कि पृथ्वी शॉ पिछले साल अपनी बल्लेबाजी को लेकर एक रोचक सिद्धांत बना लिया था कि जब उनके बल्ले से रन नहीं बन रहे हैं तो वह नेट पर भी बल्लेबाजी नहीं करेंगे और जब वह बल्ले से रन बना रहे थे तब वह हमेशा बल्लेबाजी करने को तैयार रहते थे। उनके चार या पांच मैच ऐसे थे जिसमें और 10 से कम रन बनाकर आउट हो गए और जब मैंने कहा कि हमें नेट में जाना चाहिए और देखना चाहिए कि कहां समस्या है तो उन्होंने मेरी आंखों में आंख डाल कर कहा, "नहीं, मैं बल्लेबाजी नहीं करूंगा।" मुझे बिल्कुल भी समझ नहीं आया। वह शायद बदल गए हैं। मुझे पता है कि पिछले कुछ महीनों में उन्होंने काफी काम किया है। मैं यही आशा करता हूं कि उनका सिद्धांत बदल गया हो क्योंकि अगर हम उनसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करा पाए तो वह एक सुपर स्टार खिलाड़ी बन सकता है।