देश भर में कोरोना के भयानक कहर से पूरा देश बुरी तरह जूझ रहा है। वहीं महीने बाद कहीं राहत की खबर मिली। पहली बार देश में इस भयानक संक्रमण से ठीक होने वालों की संख्या सबसे अधिक करीब 2.5 लाख देखने को मिली। तो वहीं महाराष्ट्र जैसे राज्य में अभी भी कोई खास सुधार देखने को नहीं मिल रहा है। एक दिन में सबसे अधिक नए संक्रमित लोग महाराष्ट्र में पाए जाते है, पिछले 24 घंटों में लगभग 66, 358 नए कोरोना केस दर्ज किए गए हैं। 24 घंटों के आकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में करीब 895 लोगों के मौत के आकड़े सामने आए। इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमण से अब तक कुल 66,179 मौतें दर्ज की गई हैं।

राज्य में 6.72 लाख से ऊपर ऐक्टिव केस है। राज्य के पाँच जिलों में कोरोना का कहर सबसे अधिक देखने को मिल रहा है। जिसमें नासिक मेन जहाँ करीब 11,365 नए कोरोना संक्रमित पाए गए। वहीं दूसरी और पुणे में 9,078, औरंगाबाद में 1,468, नागपूर में 6,895 और राजधानी मुंबई में करीब 4,014 मामले दर्ज किए गए हैं। राज्य में लगभग 2,62,54,737 सैम्पल टेस्ट किए गए, जिसमें करीब 44,10,085 पाज़िटिव पाए गए। अभी तक कुल 36,69,548 लोग इस संक्रमण से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। राज्य की राजधानी मुंबई में 26 अप्रैल के दिन 28,000 लोगों के सैम्पल की टेस्ट किए गए, जिसमें 3,876 लोग कोरोना पाज़िटिव पाए गए। 

बता दें, इस बीच 27 अप्रैल के दिन महाराष्ट्र सरकार ने 5,34,372 लोगों का टीकाकरण किया और 26 अप्रैल के दिन लगभग 4,678 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की पहली खुराक दी गई और 12,179 को वैक्सीन की दूसरी खुराक दी गई। सरकार का कहना है कि 45 वर्ष से अधिक आयु के 3,05,186 लोगों को टीके की पहली खुराक व 1,70,812 लोगों को दूसरी खुराक मिली।