पूरी दुनिया में जहां कोरोना ने दहशत फैलाई हुई है वहीं अलग अलग जगह से कोरोना से अलग घटनाएं भी सुनने को मिल रही हैं जो दिल झकझोर कर रख दे रही हैं। पश्चिमी दिल्ली के कापसहेड़ा थाना के पास बिजवासन से गुजरने वाली रेलवे के नजदीक दो झुग्गियों में आग लग गई जिसके बाद एक ही परिवार में 6 लोगों की मौत से मातम छा गया। वहीं दूसरी झोपड़ी के पांच लोगों ने मौके से भाग कर अपनी जान बचा ली।

रेलवे स्टेशन से सटी मातु राम नाम के शख्स के घर आग लगी थी,  जहां 37 साल के कमलेश  , पत्नी बुधनी, 2 लड़कियां और 2 लड़के रहते थे। सभी बच्चों की उम्र 3 से 16 के बीच की थी। पुलिस के अनुसार उन्हें गुरुवार को हादसे की कॉल आई जिसे सुनते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंच तब तक झुग्गी जलकर राख हो चुकी थी, उसमें रह रहे सभी लोगों को सफदरजंग लाया गया जिसके बाद सभी की मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि झोपड़ी में आग लगने के बाद गैस सिलेंडर में ब्लास्ट हो गया जिसकी वजह से आग और तेज़ हो गई। पुलिस के साथ पहुंची दो दमकल की गाड़ियों ने आग पर काबू पाया।  घटना की  पूरी जांच की जा रही है। बताया जा रहा है कि परिवार बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाला था और 13 साल से यहां रह रहा था। सभी सब्जियां बेचने का काम करते थे।