एक बार फिर केशव प्रसाद मौर्य उपमुख्यमंत्री के रूप में सामने आए हैं। उनके अलावा बृजेश पाठक को भी मुख्यमंत्री का पद मिला है. आपको बता दें कि आज शाम 4:00 बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वापस से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के लिए शपथ ग्रहण कर रहे है. आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ दूसरी बार उत्तर प्रदेश के सीएम के रूप में शपथ ग्रहण कर रहे हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण के समय गृह मंत्री अमित शाह और पर्यवेक्षक झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास आदि लोग मौजूद रहे।

सोलह कैबिनेट मंत्री तथा 52 मंत्रियों ने मिलकर आज शपथ लिया। अगर मंत्री पद की बात करें तो सूर्य प्रताप शाही, सुरेश खन्ना, स्वतंत्र देव सिंह, बेबी रानी मौर्य, लक्ष्मी नारायण चौधरी, जय वीर सिंह, गोपाल नंदी, धर्मपाल सिंह, भूपेंद्र चौधरी, अनिल राजभर, जितिन प्रसाद, एके शर्मा, योगेंद्र उपाध्याय, राकेश सचान, आशीष पटेल, संजय निषाद, जितिन अग्रवाल,कपिल देव अग्रवाल, रविंद्र जायसवाल, और संदीप सिंह ने मंत्री पद की शपथ ले ली है। अब देखना यह है कि इतने मंत्रियों के पद ग्रहण करने के बाद राज्य में क्या कुछ बदलाव आता है. हालांकि हर साल चुनाव होते हैं इलेक्शन के नतीजे आते हैं.

कुछ मंत्री जीतते हैं तो कुछ हारते हैं और कुछ नए चेहरे भी शामिल होते हैं लेकिन अगर एक मुद्दे की बात करें तो बेरोजगारी पर कोई सरकार बात नहीं करती हालाकि 2022 इलेक्शन से जनता की उम्मीदें बढ़ती जा रही है कि इस बार जिन युवाओं के पास नौकरी नहीं है उनको नौकरी मिलेगी और ऐसी सरकार बनेगी जो भारत में बेरोजगारी के मुद्दे को गंभीरता से लेगी। वही केशव प्रसाद मौर्य को वापस से उपमुख्यमंत्री का दर्जा मिला. वही बृजेश पाठक भी उपमुख्यमंत्री बनाए गए हैं आइए देखते हैं पूरी लिस्ट.

केशव मौर्य = उपमुख्यमंत्री

बृजेश पाठक= उपमुख्यमंत्री

सूर्य प्रताप शाही = मंत्री

सुरेश खन्ना=मंत्री

 स्वतंत्र देव सिंह =मंत्री

बेबी रानी मौर्य=मंत्री

 लक्ष्मी नारायण चौधरी=मंत्री

 जयवीर सिंह=मंत्री

 धर्मपाल सिंह=मंत्री

 नंद गोपाल नंदी =

भूपेंद्र चौधरी =मंत्री

अनिल राजभर=मंत्री

 जितिन प्रसाद=मंत्री

 एके शर्मा =मंत्री

योगेंद्र उपाध्याय=मंत्री

 राकेश सचान =मंत्री

आशीष पटेल=मंत्री

 संजय निषाद=मंत्री

यह उन मंत्रियों की लिस्ट है जिन्होंने आज शपथ ग्रहण की है जिसमें कुछ मंत्री बने हैं कुछ उप मुख्यमंत्री बने हैं जिसमें कुछ नए चेहरे को भी शामिल किया गया है. जिन्हें पिछले इलेक्शन में नहीं चुना जा सका था.इस बार वह भी चुन लिए गए हैं ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या इस नई कैबिनेट सरकार में UP की जनता की उम्मीदें पूरी कर पाएगी या नहीं करती है।

Read this:

गहलोत सरकार पर बरस पडी बीएसपी मुखिया मायावती

कांग्रेस को लगा बड़ा झटका विक्रमादित्य सिंह ने छोड़ी पार्टी

कौन होगा गोवा का अगला CM और किसकी होगी जीत Trending Politics News