कोरोना की दूसरी लहर लगातार नए रिकॉर्ड बना रही है। इस बीच मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमण्यम का कहना है की कोरोना वायरस का मौजूदा संक्रमण अगले महीने के मध्य में अपने चरम स्तर पर होगा। भारत में पिछले 24 घंटों में कुल 2,95,041 नए कोरोना संक्रमित सामने आए हैं। पहली बार भारत में पिछले 24 घंटों में मौत के आंकड़े लगभग 2 हजार के पार हो गए हैं। 20 अप्रैल के आंकड़ों ने भारत के सारे पुराने रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया है। यह एक दिन में नए संक्रमितों की संख्या में सबसे अधिक है।


19 अप्रैल के यह आंकड़े पहली लहर के आंकड़ों से लगभग तीन गुना हैं। जहां कोरोना के पहली लहर में लगभग 98,795 के प्रतिदिन के आंकड़े सामने आते थे वही दूसरी लहर में वह लगभग 3 लाख के आस पास  तक पहुंच गई है। देश भर में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,56,09,004 तक पहुंच गई है। जिसमें अब तक 1,82,570 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो चुकी है। कोरोना से ठीक होने वालो की संख्या 1,32,69,863 है।

 

देश में हुई कुल मौतों का लगभग 77 फीसदी हिस्सा केवल 8 राज्यो से है। जिसमें 24 घंटों में सार्वाधिक 519 संक्रमितो की मौत केवल महाराष्ट्र में हुई। इसके बाद दिल्ली में लगभग 277, छत्तीसगढ़ में 191, गुजरात में 121, यूपी में 162 के करीब, मध्य प्रदेश में 77 के आस पास, कर्नाटक में लगभग 150 और पंजाब में कुल 60 के आस पास लोगो की मौत के आंकड़े सामने आए हैं।


गौरतलब है की कुल नए संक्रमितों में लगभग 60 फीसदी संक्रमित केस केवल 6 राज्यों से सामने आए हैं। जिसमें कोरोना के सारे रिकॉर्ड तोड़ने वाला अकेले महाराष्ट्र में 62,097 नए केस सामने आए। इसके बाद बाकी राज्यों ने भी आंकड़ों को बढ़ाने में कोई कमी नहीं रखी। दिल्ली में लगभग 28,395 केरल में 19,577, यूपी में करीब 29,574 और कर्नाटक में 21,794 संक्रमित मिले।

इन सभी के बीच 19 अप्रैल को राष्ट्र को संबोधित करते हुए देश के प्रधानमंत्री ने सांत्वना दी कि लॉकडाउन का निर्णय अंतिम विकल्प के रूप में इस्तेमाल में लाया जा सकता है।