एक तरफ लोग कोरोना महामारी से ज़िन्दगी और मौत की लड़ाई लड़ रहे हैं, तो दूसरी तरफ हर कुछ दिनों में ऐसे हादसे सुनने में आ रहे हैं जिसे सुनके हृदय काम उठता है। एक बड़ा हादसा गुजरात से सुनने में आया है, जिसमें कोरोना संक्रमित करीब 18 लोग मारे गए हैं। दरअसल कल देर रात करीब 12:30 बजे गुजरात के भरूच शहर के कोविड अस्पताल में  आग लगने से कई मरीजों ने अपनी जान गवां दी। पटेल वेलफेयर हॉस्पिटल के कोविड वार्ड में आग लगी थी, आग लगने से कई मरीजों की मौत आग में झुलसने से हो गई वहीं कुछ की दम घुटने से। कोरोना वार्ड में लगी आग ने देखते ही देखते ICU को भी अपनी चपेट में ले लिया। 

बताया जा रहा है आग में जलने से कुछ की मौत वहीं हो गई और कुछ की दूसरे अस्पतालो में शिफ्टिंग के दौरान हो गई। बता दें, करीब 50 लोगों को स्थानीय लोगों और मौके पर पहुंची दमकल विभाग के अधिकारियों  के ज़रिए बचाया गया है। पुलिस एसपी राजेंद्र सिंह चुड़ासमा ने बताया की आग लगने की वजह शॉट सर्किट मानी जा रही है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणा ने घटना के प्रती दुख जताया और हादसे में पीड़ितों के परिवारों को 4 लाख रुपए सहायता के लिए कहा।

ऐसे हादसे हर कुछ दिनों में सुनने को आ रहे हैं। इससे पहले 28 अप्रैल को महाराष्ट्र के ठाणे में शॉट सर्किट से ही अस्पताल में आग लगी थी। जिसमें कई मरीजों की जान गई थी। वहीं 26 अप्रैल को गुजरात के ही सूरत में कोरोना के अस्पताल में आग लगने से 4 लोगों ने दम तोड़ा था। इन सभी घटनाओं में जिस प्रकार सरकार ने घटना की जांच के आदेश दिए थे। वैसे ही आज हुए बड़े हादसे के लिए भी जांच के आदेश दिए हैं, हालांकि सरकार अभी तक किसी भी जांच के परिणाम तक आज नहीं पहुंच पाई है।